राम नाम अति मीठा



राम नाम अति मीठा

राम नाम अति मीठा है,
कोई गा के देख ले
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले

राम नाम अति मीठा है,
कोई गा के देख ले
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले
राम नाम अति मीठा है
जिस घर में अंधकार,
वहां मेहमान कहां से आए।
जिस मन में अभिमान,
वहां भगवान कहा से आए॥

अपने मन मंदिर में,
ज्योत जलाके देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥
राम नाम अति मीठा है,
कोई गा के देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥

आधे नाम पे आ जाते,
हो कोई बुलाने वाला।
बिक जाते है राम,
कोई हो मोल चुकाने वाला॥

कोई शबरी झूठे बेर
खिलाके देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥

राम नाम अति मीठा है,
कोई गा के देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥

मन भगवान् का मन्दिर है,
जहाँ मैल न आने देना।
हीरा जन्म अनमोल मिला है,
इसे व्यर्थ गँवा न देना॥

शीश झुके हरि मिलते हैं,
झुकाके देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥

राम नाम अति मीठा है,
कोई गा के देख ले।
आ जाते है राम,
कोई बुला के देख ले॥


श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
रंग दे चुनरिया, रंग दे चुनरिया,
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया

ऐसी रंग दे के रंग नही छूटे
ऐसी रंग दे रंग दे रंग दे के रंग नही छूटे
धोबिया धोए चाहे ये सारी उमारिया
धोबिया धोए चाहे ये सारी उमारिया
ओह श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
रंग दे, रंग दे
रंग दे, रंग दे, रंग दे
रंग दे चुनरिया
लाल ना रंगउ मेी
हरी ना रंगउ
अपने ही रंग मे रंग दे चुनरिया
अपने ही रंग मे रंग दे चुनरिया
ओह श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया

रंग दे, रंग दे
रंग दे, रंग दे, रंग दे
रंग दे, रंग दे
रंग दे, रंग दे, रंग दे
रंग दे चुनरिया
बिना रनगाए मई तो घर नही जावोंगी
बिना… रनगाए मई तो घर नही… जौंगी
पा पा दा निदा दपा
पा दा मा पा गामा पा
पा दा मा पा गा मा री
गा मा रिगा सा नि सा
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
मीरा के प्रभु गिरिधर नगर
जल से पतला कौन है
कौन भूमि से भारी
कौन आज्ञ से तेज है
कौन काजल से काली
जल से पतला… पतला
जल से पतला ज्ञान है
और पाप भूमि से भारी
क्रोध आज्ञ से तेज है
और कलंक काजल से काली
मीरा क प्रभु गिरिधर नगर
प्रभु चरणं मे हरी चरणं मे
श्याम चरणं मे लगी नज़रिया
ओह श्याम पिया मोरी

श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
रंग दे चुनरिया, रंग दे चुनरिया,
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया
श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया